ख़बरी दोस्त

रंगून

Rangoon2/24/2017 12:37:36 PMRangoonhttp://khabridost.in//FilmImages/rangoon.jpg Rangoon is an Indian Hindi-language period romance drama film directed by Vishal Bhardwaj. The film is produced by Sajid Nadiadwala, Vishal Bhardwaj, Rekha Bhardwaj and Viacom18 Motion Pictures. The project is a period film set during World War II. The film stars Shahid Kapoor, Kangana Ranaut and Saif Ali Khan in lead roles.2/24/2017 12:00:00 AM
रंगून एक हिन्दी भाषा में बनी भारतीय बॉलीवुड फ़िल्म है, इसका निर्देशन विशाल भारद्वाज ने किया है। इसका निर्माण साजिद नाडियाडवाला, विशाल भारद्वाज और रेखा भारद्वाज ने किया है। इस फिल्म में शाहिद कपूर, कंगना राणावत और सैफ अली खान मुख्य किरदार में हैं।

रिलीज़ दिनांक-24-फ़रवरी-2017
अभिनेता / अभिनेत्री
निर्देशक
निर्माता
Film Reviews

फिल्म: रंगून
डायरेक्टर: विशाल भारद्वाज
स्टारकास्ट: शाहिद कपूर, सैफ अली खान और कंगना राणावत

 

प्लॉट

यह फिल्म 1943 में हुए दूसरे वर्ल्ड वॉर पर आधारित है। इस फिल्म में युद्ध के साथ-साथ आपको रोमांस भी देखने को मिलेगा। इस आजादी की लड़ाई में देश के अलग-अलग सपूतों का अपना-अपना अलग तरीका था। महात्मा गांधी ने आजादी के लिए अहिंसा को अपनाया तो वही सुभाष चंद्र बोस ने अंग्रेजों को देश से बाहर करने के लिए आजाद हिंद फौज का गठन किया। ऐसे ही संघर्ष के बीच दिलेर जूलिया (कंगना) 40 के दशक में कई दिलों पर राज कर रही होती हैं। जहां एक तरफ उनका शादीशुदा प्रड्यूसर रूसी बिलमोरिया (सैफ) उनपर फिदा रहता है, वहीं बॉर्डर पर तैनात जमादार नवाब मलिक (शाहिद) भी उससे बेइंतहां प्यार करता है।

 

 

कहानी

इस कहानी में तीन मुख्य किरदारों हैं। नवाब मलिक (शाहिद कपूर), जो ब्रिटिश सेना में भारतीय सैनिक है और जिसने 8 महीने जापानियों के कब्जे में युद्धबंदी के तौर पर बिताए हैं। रुसी बिलीमोरिया (सैफ अली खान) एक स्टुडियो का मालिक है वह पहले एक्शन स्टार भी था लेकिन उसका करियर एक स्टंट में हाथ गंवाने के बाद खत्म हो गया। जूलिया (कंगना राणावत) रूसी की खोज और लोकप्रिय अभिनेत्री है। लोगों के बीच उसका जलवा है।

 

 

ब्रिटिश आर्मी मोर्चे पर भारतीय जवानों के मनोरंजन के लिए किसी बड़े स्टार को वहां परफॉर्म करने के लिए भेजना चाहती है। रूसी कुछ बिजनेस और भावनात्मक कारणों से इसकी जिम्मेदारी लेता है और जूलिया को भेजता है। हालांकि वह खुद वहां नहीं जा पाता। उसकी सुरक्षा के लिए वहां नवाब मलिक को लगाया जाता है।स्थिति कुछ बन जाती है कि नवाब और जूलिया बाकियों से बिछड़ कर दुश्मन के इलाके में फंस जाते हैं। दोनों को कई परेशानियां का सामना कर भारतीय इलाके में लौटना है और इसी बीच दोनों में प्यार हो जाता है। लेकिन इस खेल में बीच में युद्ध, दुनिया, वास्तविकता और रूसी की दीवार भी है।

 

 

एक्टिंग

शाहिद कपूर का आदर्शवादी और दृढ़ सैनिक के किरदार में काफी शानदार लगे हैं।शाहिद कपूर कंगना राणावत के साथ अपनी प्यार की केमेस्ट्री से लोगों पर छाप छो़ड़ने में कामयाब रहे।

 


कंगना का रोले फिल्म में सबसे अहम हैं। उनके लिए दो लोग किसी भी हद तक जाने को तैयार हैं। जूलिया के रोल में उनका पॉवरफुल परफॉर्मेंस आपको काफी अच्छा लगेगा। उसमे असुरक्षता और कभी-कभी असंवेदनशील भी है लेकिन साथ ही इस कैरेक्टर पर आपको प्यार भी आएगा। सैफ अली खान सैफ अली खान एक प्रोड्यूसर के रोल में स्क्रीन पर बिल्कुल फिट बैठते हैं। वो लिमिटेड सीन में भी अपनी छाप छोड़ने में कामयाब हुए हैं।

 


डायरेक्शन

डायरेक्टर विशाल भारद्वाज जिन्होंने 'मकबूल', 'ओमकारा' और 'हैदर' जैसी बेहतरीन फिल्में बनाई हैं उन्होंने इस फिल्म को भी अच्छा बनाने की कोशिश की है लेकिन पूरी तरह से नहीं। इस फिल्म को विशाल भारद्वाज ने बहुत सिंपल तरीके से लोगों के सामने लाने की कोशिश की है। कहीं कहीं फिल्म का प्लॉट ही ऐसा है कि कहानी कमजोर लगती है। विशाल भारद्वाज ने शानदार फिल्म बनाने की कोशिश की है लेकिन फिल्म से इमोशनली आप खुद को कनेक्ट नहीं कर पाएंगे।


म्यूजिक

फिल्म का म्यूजिक अच्छा है लेकिन आपको गानों में कुछ नया देखने को नहीं मिलेगा। मेरे मिंया गए इंग्लैंड और अलविदा गाने पहले ही हिट हो चुके हैं।

 

 

फिल्म देखने जाएँ या नहीं

विशाल भारद्वाज जिन फिल्मों के लिए जाने जाते हैं तो कह सकते हैं कि विशाल भारद्वाज की यह बेस्ट फिल्म नहीं है लेकिन कंगना कंगना राणावत की जाबांज एक्टिंग के लिए आप एक बार ये फिल्म देखने जा सकती हैं। बाकी दोनों कलाकारों ने भी अच्छी एक्टिंग की है। फिल्म देखने जाने से पहले आप सबसे ऊपर ट्रेलर देख सकते हैं-

 

फिल्म के गाने और लिरिक्स देखने के लिए यहाँ क्लिक करें-