ख़बरी दोस्त

ये है इंडिया के सबसे खतरनाक एनकाउंटर स्पेशलिस्ट

5-Apr-17 13:48ये है इंडिया के सबसे खतरनाक एनकाउंटर स्पेशलिस्ट
ये है इंडिया के सबसे खतरनाक एनकाउंटर स्पेशलिस्ट

"एनकाउंटर" का नाम सुनते है आपके दिमाग में क्या आता है? खून खराबा? या शांति? या दोनी ही नही आते है। फिर क्या आता है? मेरे दिमाग में आता है नाना पाटेकर का चेहरा और फिल्म अब तक छप्पन। इस फिल्म में वो अंडरवर्ल्ड के के लोगों को चुन-चुन कर मारते है। छोड़ो इन बातो को ऐसे बहुत से सवाल है जो दिमाग में आते है। चलिए आज हम आपको बताते है इंडिया के एनकाउंटर स्पेशलिस्ट के बारे में!

1. प्रशांत शर्मा

प्रशांत शर्मा इंडिया के सबसे खतरनाक एनकाउंटर स्पेशलिस्ट रहे हैं और इनके नाम से अंडरवर्ल्ड के लोग खौफ खाते थे। वैसे इनके नाम 104 एनकाउंटर दर्ज हैं। लेकिन माना जाता है कि इन्होंने 300 से भी ज्यादा एनकाउंटर किए है। ये मशहूर जब हुए जब इन्होने छोटे राजन को अपना टारगेट बना लिया था। फेक एनकाउंटर के मामले में प्रशांत के खिलाफ केस हुआ था। लेकिन कोर्ट ने इन्हें फ्री कर दिया था।

2. दया नायक

आपको याद हो तो नाना पाटेकर की एक फिल्म थी। "अब तक छप्पन" ये वही दया नायक है ये फिल्म इनकी लाइफ को लेकर बनी थी। इंडिया में जितने भी एनकाउंटर स्पेशलिस्ट हुए हैं उनमे दया का नाम सबसे ज्यादा फेमस है। अपने करियर में 83 एनकाउंटर और करीब 300 से ज्यादा को जेल की हवा खिलाई और एक बार इनको गोली भी लगी थी।

3. प्रफुल्ल भोंसले

अब तक 83 को ऊपर भेज चुके है इनका दिमाग एकदम बिजली वाला है। इन्वेस्टीगेशन करने में माहिर। इनका ऑफिशियल अकाउंट साफ नही है। मतबल ये 83 से ज्यादा को ऊपर भेज चुके है। छोटा सकील और आरिफ कालिया इनके सबसे फेमस ऑपरेशन थे।

4. शहीद विजय सालसकर

मुंबई पर हुए 26/11 हमले में आतंकियों से लड़ते हुए शहीद हो गये थे। अपने 25 साल के करियर में 90 को ऊपर भेज चुके थे। इनके नाम का डंका पूरे मुंबई शहर में बजते थे। इन्हें अशोक चक्र से नवाज़ा गया था।

5. सचिन हिन्दूराव वाजे

इन्होंने अपने करियर में 63 को ऊपर भेजा है। इनके ऊपर मुंबई के मुम्बरा में शान्ति बनाने की जिम्मेवारी थी। जो इन्होंने कर दिखाया। मुम्बरा मुस्लिम का इलाका है। जब इनका मार धाड़ से मन भर गया था तब इन्होंने रिजाइन दे दिया। आज ये शिव सेना के साथ है।

6.रविन्द्र आंग्रे

आंग्रे वो आदमी हैं जिन्होंने पूरे बांद्रा के झोल को अकेले साफ़ कर दिया था। उस समय में माफिया लोगों ने काफी खुराफात मचा रखी थी। फिर क्या था रविन्द्र ने पिस्टल से 50 को निपटा दिया।

7. राजबीर सिंह

अभी तक आपने जितनों के बारे में जाना वो सब मुंबई के कोहराम को शांत कर रहे थे। राजबीर सिंह दिल्ली के माफिया को साफ़ करने में लगे थे। दिल्ली के एकलौते ऐसे ऑफिसर थे जिन्हें मात्र 13 साल में एसीपी(ACP) बना दिया गया था।इनको इन्ही के एक दोस्त ने आपसी विवाद में गोली मार दी थी।




संबंधित पोस्ट