ख़बरी दोस्त

ऐसे कमाई कर रहे गूगल, ऐपल और माइक्रोसॉफ्ट

16-Jun-17 18:16ऐसे कमाई कर रहे गूगल, ऐपल और माइक्रोसॉफ्ट
ऐसे कमाई कर रहे गूगल, ऐपल और माइक्रोसॉफ्ट

बात जब भी दुनिया की सबसे बड़ी टेक्नॉलजी कंपनियों की होती है तो हमारे जहन में एप्पल, ऐल्फाबेट (गूगल की पैरंट कंपनी), माइक्रोसॉफ्ट, ऐमजॉन और फेसबुक का नाम आता है। इन सभी दिग्गज कंपनियों का रेवेन्यू अरबों डॉलर का है। ये कंपनियां विभिन्न डिजिटल प्रॉडक्ट्स और सर्विसेज के माध्यमस से कमाई करती हैं। विजुअल कैपिटलिस्ट वेबसाइट ने एक रिपोर्ट जारी की है। इस रिपोर्ट में उसने बताया है कि इन कंपनियों के सबसे ज्यादा पॉप्युलर प्रॉडक्ट्स का कुल कमाई में कितना हिस्सा होता है। आगे की स्लाइड्स में जानें किसकी कमाई का क्या है जरिया।

टेक्नॉलजी

टेक्नॉलजी कंपनी  माइक्रोसॉफ्ट कॉर्पोरेशन के रेवेन्यू में उसके ज्यादातर प्रॉडक्ट्स का शेयर सबसे ज्यादा समान रूप से बंटा हुआ है। कंपनी के टोटल रेवेन्यू में 28 फीसदी हिस्सेदारी माइक्रोसॉफ्ट ऑफिस की है। इसके बाद विंडोज सर्वर और विडोज ऐज्योर की हिस्सेदारी है, जिनका हिस्सा 22 फीसदी है। एक्सबॉक्स, विंडोज ऑपरेटिंग सिस्टम, बिंग और अन्य ऐडवर्टाइजिंग बिजनस की माइक्रोसॉफ्ट के टोटल रेवेन्यू में हिस्सेदारी क्रमश: 11%, 9%, 7% और 5 % है। इसके अलावा 18 फीसदी रेवेन्यू हिस्सेदारी को कंपनी ने अन्य माध्यमों के द्वारा बताया है।

 

एप्पल

एप्पल के रेवेन्यू का ज्यातादर हिस्सा आईफोन से आता है। कंपनी के रेवेन्यू में 63 फीसदी हिस्सेदारी आईफोन की है। इसके बाद आईपैड, और आईमैक का रिवेन्यू कॉन्ट्रिब्यूशन क्रमश: 10 फीसदी और 11 फीसदी है। अन्य प्रॉडक्ट्स जैसे अक्सेसरीज से 5 फीसदी रेवेन्यू आता है। इसके अलावा आईक्लाउड, एप्पल म्यूजिक, आईट्यून्स जैसी सर्विसेज की कंपनी के कुल रेवेन्यू में हिस्सेदारी 11 फीसदी है।

 

गूगल

पैरंट कंपनी ऐल्फाबेट के रेवेन्यू का बड़ा हिस्सा गूगल ऐडवर्ड्स और यूट्यूब से आता है। इन दोनों प्रॉडक्ट्स के कंपनी का 88 फीसदी रेवेन्यू आता है। गूगल प्ले सर्विस और पिक्सेल प्रॉडक्ट्स की रेवेन्यू में हिस्सेदारी 11 फीसदी है। इसके अलावा अन्य सहायक कंपनियां जैसे नेस्ट, गूगल फाइबर और वेरिली से 1 फीसदी रेवेन्यू आता है।

 

फेसबुक

सोशल मीडिया दिग्गज फेसबुक के रेवेन्यू का ज्यादातर हिस्सा फेसबुक ऐड्स से आता है। कंपनी के रेवेन्यू में 97 फीसदी हिस्सेदारी फेसबुक ऐड्स की है। विजुअल कैपिटलिस्ट की रिपोर्ट के मुताबिक कंपनी का तीन फीसदी रेवेन्यू एनी माध्यमों से आता है।

 

ऐमजॉन

दुनिया की सबसे बड़ी ई कॉमर्स कंपनी ऐमजॉन का 72 फीसदी रेवेन्यू ऑनलाइन शॉपिंग बिजनस से आता है। इसके अलावा ऐमजॉन प्राइम और मीडिया सर्विस से कंपनी का 18 फीसदी रेवेन्यू आता है। वोजुअल कैपिटलिस्ट की रिपोर्ट की मानें तो ऐमजॉन वेब सर्विसेज से 9 फीसदी और एनी माध्यमों से 1 फीसदी रेवेन्यू आता है।

 




संबंधित पोस्ट