ख़बरी दोस्त

शिवाय फिल्म रिव्यू


फिल्म: शिवाय

डायरेक्टर: अजय देवगन

स्टारकास्ट: अजय देवगन, सयेशा सैगल, एरीका कार, अबीगैल ईमेस और अली काज़मी

 

कहानी

फिल्म की कहानी शुरू होती है बुरी तरह से ज़ख़्मी अजय देवगन से, जो सांस भी नहीं ले पा रहे हैं और जख्मी होने के कारण सही से चल भी नहीं सकते इसी वजह से जमीन पर गिर पड़ते हैं और फिर अचानक आता है फ्लैशबैक और हम सब शिवाय की दुनिया में पहुँच जाते हैं वो सब कुछ जो 9 साल पहले हो चुका होता है। शिवाय कौन है ये आपको विस्तार में बताते हैं।


शिवाय एक शेरदिल पर्वतारोही है। जब वो किसी पहाड़ की चोटी पर पड़ा चिलम नहीं फूंक रहा होता है तब वो पहाड़ चढ़ रहा होता है। उसके लिए ये रोज़ का काम है और वो पहाड़ चढ़ता ही रहता है। वो इस काम को और इस जगह को इतनी बखूबी जानता है कि उसे किसी चीज़ से फर्क नहीं पड़ता। बर्फ में भी वो शर्ट के बिना घूम सकता है। इसके बाद कहानी में ट्विस्ट आता है।

 

इसके बाद शिवाय को बुल्गारिया से आई टूरिस्ट से प्यार हो जाता है। टूरिस्ट का नाम है ओल्गा मतलब कि विदेशी एक्ट्रेस एरिका कार। शिवाय उसे एक पहाड़ से गिरने से बचाता है और इसके बाद दोनों में प्यार हो जाता है और फिर दोनों में नजदीकियां बढ़ने लगती हैं।

 

लेकिन ज़िन्दगी में कुछ घटना न हो ऐसा तो हो ही नहीं सकता, जब ओल्गा को पता चलता है कि वह माँ बनने वाली है लेकिन वो माँ बनना नहीं चाहती लेकिन शिवाय उसको किसी तरह से मन लेता है। वो उसे बताता है कि बच्चा वो रख लेगा और ओल्गा अपनी ज़िंदगी चुनने के लिए आज़ाद है। तो वादे के मुताबिक ओल्गा बच्चे को शिवाय के पास छोड़कर चली जाती है।

 

इस घटना को हुए 9 साल बीत जाते हैं और शिवाय अपनी बेटी का नाम रखता है गौरा जोकि बचपन से ही गूंगी है और शिवाय उसको झूठ बोलता है कि उसकी माँ मर चुकी है। जब गौरा को पता चलता है कि उसकी माँ जिन्दा है तो थोडा रूठने मनाने के बाद वो शिवाय को मना लेती है कि उसे मां से मिलना है। दोनों बुल्गारिया पहुंचते हैं आने वाले खतरे से अंजान। ऐसा खतरा जो उनकी ज़िंदगी हमेशा के लिए बदल देगा। शिवाय और उसकी बेटी बुल्गारिया में कैसे मिलने जाते हैं और क्या घटना होती है, क्या परेशानी होती है यही फिल्म का क्लाइमेक्स है, इसे देखने के लिए आपको फिल्म देखनी होगी।

 

अभिनय

अजय देवगन ने इस फिल्म में शिवाय का किरदार निभाया है वो इस फिल्म के डायरेक्टर भी हैं और प्रोडूसर भी हैं। अजय देवगन ने अपने किरदार को बहुत अच्छी तरह से निभाया है और आपको पहाड़ों के सीन उनके जरुर पसंद आयेंगे और कई एक्शन सीन भी उन्होंने किये हैं जो आपको पसंद आयेंगे।

 

सयेशा सैगल, एरीका कार और अबीगैल ईमेस ने भी अपने किरदार को बहुत अच्छी तरीके से निभाया है।

डायरेक्शन

अजय देवगन के ही प्रोडक्शन में और निर्देशन में बनी इस फिल्म का महीनों से क्रेज बनाया गया था। फिल्म के एक्शन सीन्स को लेकर भी काफी हाइप क्रिएट किया गया था। फिल्म की कहानी भी अच्छी है, सिनेमेटोग्राफी और एक्शन सीन्स कोरियोग्राफी बेहतरीन है।

 

फिल्म की निगेटिव बातें

फिल्म की बात करें तो कहीं ना कहीं यह आपके उम्मीदों पर खरी नहीं उतरती है।फिल्म की कहानी और डॉयलोग्स के मामले में काफी ढ़ीली है। वहीं, कुछ सीन और कुछ बातें फिल्म में ऐसी भी है, जो आपके दिमाग में सवाल पैदा करेगी।

 

फिल्म की अच्छी बातें

फिल्म में अजय देवगन की एंट्री काफी दमदार तरीके से होती है। बर्फ की चट्टानों में फंसे लोगों को शिवाय तूफान से कैसे बचाता है, यह काफी अच्छे से फिल्माया गया है। फिल्म में कई एक्शन सीन भी हैं जोकि फिल्म का मजबूत पक्ष है।

फिल्म देखनी चाहिए या नहीं

फिल्म की कहानी अच्छी है और उसे अच्छी तरह से दर्शाया गया है। फिल्म के सीन और लोकेशन बहुत अच्छे हैं जो आपको पसंद आयेंगे और आपको एक्शन और इमोशनल सीन भी पसंद आयंगे। आप फिल्म जरुर देखने जाएँ। फिल्म देखने जाने से पहले आप इस लिंक पे क्लिक करके ट्रेलर देख सकते हैं-

 

फिल्म का ट्रेलर, गाने और लिरिक्स देखने के लिए यहाँ क्लिक करें–

 

 




संबंधित पोस्ट


शीर्ष पोस्ट और पन्ने


कैसे पहचाने 10 के नकली सिक्के को
बाहुबली-2 में भल्लाल देव की है जबरदस्त बॉडी
जल्द ही बंद होंगे दो हज़ार के नोट
सनी लियोनी का भाई की शादी में ऐसा था अंदाज
ये है इंडिया के सबसे खतरनाक एनकाउंटर स्पेशलिस्ट
दंगल में हुई चार बड़ी गलतियां
पढ़िए अखिलेश और डिंपल की लव स्टोरी के बारे में
TV पर बार-बार क्यों आती है सूर्यवंशम

हाल की पोस्ट


ये बड़े अविष्कार हुए गलती से
श्रीलंका में अब भी हैं रामायण से जुड़ी जगहे
कड़ाके की ठण्ड में भी गर्म रहता है इस हॉट स्प्रिंग्स का पानी
इन बुजुर्गों की जिंदादिली को सलाम
ये हैं दनिया की सबसे अमीर महिलाएं
8 साल में कैसा रहा व्हाइट हाउस में ओबामा परिवार का सफ़र, जानें
ये हैं इतिहास के सबसे अमीर लोग
जानते हैं महाभारत में कौन किसके अवतार थे