ख़बरी दोस्त

इस गाँव के लोग रहते एक देश में हैं और काम दूसरे देश में करते हैं

दुनिया में कई देशों के बॉर्डर ऐसे बने हुए हैं जहाँ आप आसानी से बॉर्डर क्रॉस कर सकते हो। ऐसा ही एक गाँव हम यहाँ दिखा रहे हैं जहाँ के लोग एक देश में रहते हैं लेकिन दूसरे देश में जाकर काम करते हैं। यह जगह किसी और देश में नहीं बल्कि अपने देश भारत में ही है। इस गाँव का नाम है लुंगवा गांव जोकि नागालैंड में है और यह भारत-म्यांमार की सीमा पर स्थित है।

 

इस गाँव के कुछ घर भारत में हैं और कुछ घर म्यामांर में हैं

 

गाँव के बायीं तरफ भारत है और दूसरी तरफ म्यांमार है

यह एक ऐसा गांव भी हैं जहां रहने वाले लोगों को दूसरे शहर में घूमने के लिए वीज़ा की ज़रूरत नहीं पड़ती। इस गांव के बायीं तरफ भारत है और दायीं तरफ म्यांमार हैं।

 

इसी वजह से यहाँ के लोग रहते एक देश में हैं और काम दूसरे देश में करते हैं

 

यहाँ रहने वाले लोगों के पास दोनों देशों की नागरिकता है

Konyak आदिवासी जो यहां रहते हैं। उनके पास दोनों देशों की नागरिकता है। Konyak जनजाति नागालैंड की आधिकारिक तौर पर मान्यता रखने वाली 16 जनजातियों में से एक हैं।

 

Konyaks को Headhunters भी बोला जाता है

konyak को 'हेडहंटर्स' के नाम से जाना जाता था क्योंकि यह लड़ाई में अपने दुश्मन के सर काट देते थे।

 

यह गाँव भले ही दो गुटों में बंटा हुआ है लेकिन यहाँ के लोगों में काफी एकता है

 

 




संबंधित पोस्ट


शीर्ष पोस्ट और पन्ने


कैसे पहचाने 10 के नकली सिक्के को
बाहुबली-2 में भल्लाल देव की है जबरदस्त बॉडी
जल्द ही बंद होंगे दो हज़ार के नोट
जानें भोजपुरी एक्ट्रेसेस फिल्म के लिए कितनी फीस लेती हैं
पढ़िए अखिलेश और डिंपल की लव स्टोरी के बारे में
दंगल में हुई चार बड़ी गलतियां
ये है इंडिया के सबसे खतरनाक एनकाउंटर स्पेशलिस्ट
जानते हैं प्रधानमंत्री के बॉडीगार्ड्स के ब्रीफ़केस में क्या होता है

हाल की पोस्ट


ये स्टार्स करते हैं इन ब्रांड्स को प्रमोट
जानें 'द कपिल शर्मा शो' के मेंबर्स की फीस
किसी काम के नही शरीर के ये अंग
ये हैं दुनिया के सबसे विवादित फूड्स, पाबंदी के बाद भी खाते हैं लोग
इन फिल्मों को देखने के बाद किसी को आया अटैक तो किसी की हुई मौत
ये हैं देश के पानी के सबसे महेंगे ब्रांड्स
दुनिया के इन देशों में क्या है रेप की सजा, जानें
IRCTC ने जारी की खाने की नई लिस्ट