ख़बरी दोस्त

ऐसी थी मुकेश और नीता अम्बानी की लव स्टोरी

इस समय शादियों का माहौल चल रहा है हर तरफ देखे तो शादियाँ ही शादियाँ हो रही है आज हम आपको एक ऐसी खास जोड़ी के बारे में बताने जा रहे हैं उस खास जोड़ी का नाम है मुकेश और नीता अम्बानी।

बचपन से ही थी नृत्य की शौक़ीन

नीता का जन्म एक मध्यवर्गीय परिवार में हुआ था। नीता को बचपन में गुड्डे-गुडिया के साथ खेलना पसंद करती थी। बचपन में नीता को नृत्य में रूचि थी। पांच साल की उम्र से नीता भरतनाट्यम सीखने लगी और जैसे-जैसे गुड्डे-गुड़ियों खेलने की उम्र ने साथ छोड़ा तो नीता एक खूबसूरत लडकी के साँचे में ढलने लगी।

धीरूभाई अम्बानी हुए कला से प्रभावित

एक दफा नवरात्रि के कार्यक्रम में नीता परफॉर्म करने गई थी और वहाँ धीरुभाई अम्बानी भी आमंत्रित थे। धीरुभाई नीता के नृत्य से इतने प्रभावित हुए कि उन्होंने मन ही मन नीता को अपने घर की बहू बनाने का फैसला कर लिया।

धीरूभाई अम्बानी ने की पहल

कार्यक्रम खत्म होने एक बाद धीरुभाई ने आयोजक से नीता का नंबर ले लिया। धीरुभाई ने नीता को फ़ोन किया, लेकिन नीता ने यह सोचकर फ़ोन काट दिया था कि किसी का गलत नंबर लग गया है। धीरुभाई भी कहाँ हार मानने वाले थे उन्होंने दुबारा फ़ोन मिलाया और अपना परिचय देते हुए बोले कि "मै धीरुभाई अम्बानी बात कर रहा हूँ।" नीता ने कहा कि "आप अगर धीरुभाई अम्बानी है, तो मै एलिजाबेथ टेलर बात कर रही हूँ"।

धीरुभाई ने दिया निमंत्रण

नीता ने यह बात अपने पिता को बताई। उनके पिता ने सलाह दी कि आइंदा फ़ोन आए तो अच्छे से बात करे। धीरुभाई ने फिर से नीता को फ़ोन किया। इस बार नीता ने धीरुभाई के साथ अच्छे से बात की। बातचीत के दौरान धीरुभाई ने नीता को अपने ऑफिस आने का निमंत्रण दिया।

नीता ने स्वीकारा निमंत्रण

नीता को इस बात से बहुत आश्चर्य हुआ कि इतने बड़े उघोगपति उनसे क्यों मिलना चाहते हैं। नीता ने साहस जुटाते हुए धीरुभाई के आमंत्रण को स्वीकार कर लिया और उनसे मिलने के लिए उनके ऑफिस पहुंच गई।

नीता का असमंजस

धीरुभाई ने खुले दिल से नीता का स्वागत किया और दो-चार औपचारिक सवाल जवाब के बाद नीता से अपनी असली मंशा जाहिर की। धीरुभाई ने नीता से पूछ लिया "क्या आप मेरे बेटे मुकेश से मिलना चाहेंगी"। नीता असमंजस में फंस चुकी थी। बहुत सोच-विचार के बाद मुकेश से उनके घर में मिलने का फैसला लिया।

मुकेश और नीता, मिले कुछ इस तरह

फिर एक दिन हिचकिचाते हुए नीता ने धीरुभाई के घर दस्तक दे ही दी। उस समय नीता को अंदाज नही था कि वे एक दिन इस घर की बहू बनेगी। दरवाजे पर जो शख्स मौजूद था वो और कोई नही, मुकेश अम्बानी ही थे। फिर क्या था मुलाकातों का सिलसिला चल निकला। दोनों एक दूसरे को समझने की कोशिश कर रहे थे। मुलाकातों के दौरान, मुकेश अपना दिल नीता को दे बैठे। लेकिन नीता अब भी असमंजस में थी। उनके लिए फैसला कर पाना मुश्किल साबित हो रहा था।

मुकेश और नीता उस वक़्त साथ थे

यह नीता और मुकेश की सातवीं मुलाकात थी। लेकिन नीता फैसला नही ले पाई थी।मुकेश और नीता साउथ मुम्बई के पेडर-रोड पर ड्राइव कर रहे थे। शाम का वक़्त था और घड़ी की सुई रात होने की तरफ इशारा कर रही थी। इस समय मुम्बई जैसे शहर में ट्रैफिक भी अपनी चरम सीमा पर रहता है।

बीच ट्रैफिक में रुकी गाड़ी

मन ही मन मुकेश नीता को अपनी अर्धांगिनी मान चुके थे। मुकेश ने ट्रैफिक सिग्नल के बीच गाड़ी रोक दी। नीता के लिए इस स्थिति को समझ पाना बेहद मुश्किल हो रहा था और मुकेश ने इज़हार-ए-वफ़ा कर दी। मुकेश एक टूक नीता से पूछ बैठे क्या तुम मुझसे शादी करोगी..? नीता की धड़कनें तेज़ थी और उस पर यह सवाल तो क़यामत था।

नीता का जवाब

मन ही मन नीता भी मुकेश को पसंद करने लगी थीं और इस ट्रैफिक की घबराहट के बीच फ़ौरन ही इस रिश्ते को कुबूल करते हुए हामी भर दी “हाँ! मैं शादी करूंगी।” उसके बाद जो कुछ हुआ उससे हम और आप अच्छी तरह से वाकिफ हैं। सात फेरों के बाद नीता मुकेश की परछाई बन चुकी हैं।

मुकेश की पत्नी बनना सौभाग्य है

एक इंटरव्यू के दौरान जब नीता से पूछा गया कि उनके जीवन का सबसे अच्छा पल कौनसा है? तो नीता का यही जवाब था कि मुकेश की अर्धांगिनी बनना उनके सौभाग्य की बात है। नीता हमेशा यही कहती हैं “Apart from being anything else, I enjoy being Mukesh’s wife”




संबंधित पोस्ट


शीर्ष पोस्ट और पन्ने


कैसे पहचाने 10 के नकली सिक्के को
बाहुबली-2 में भल्लाल देव की है जबरदस्त बॉडी
जल्द ही बंद होंगे दो हज़ार के नोट
सनी लियोनी का भाई की शादी में ऐसा था अंदाज
ये है इंडिया के सबसे खतरनाक एनकाउंटर स्पेशलिस्ट
दंगल में हुई चार बड़ी गलतियां
पढ़िए अखिलेश और डिंपल की लव स्टोरी के बारे में
TV पर बार-बार क्यों आती है सूर्यवंशम

हाल की पोस्ट


ये बड़े अविष्कार हुए गलती से
श्रीलंका में अब भी हैं रामायण से जुड़ी जगहे
कड़ाके की ठण्ड में भी गर्म रहता है इस हॉट स्प्रिंग्स का पानी
इन बुजुर्गों की जिंदादिली को सलाम
ये हैं दनिया की सबसे अमीर महिलाएं
8 साल में कैसा रहा व्हाइट हाउस में ओबामा परिवार का सफ़र, जानें
ये हैं इतिहास के सबसे अमीर लोग
जानते हैं महाभारत में कौन किसके अवतार थे