ख़बरी दोस्त

कहानी 2 फिल्म रिव्यू

 

फिल्म: कहानी 2

डायरेक्टर: सुजॉय घोष

प्रोड्यूसर - सुजॉय घोष और जयंतीलाल गडा

स्टारकास्ट: विद्या बालन, अर्जुन रामपाल, जुगल हंसराज और नाएशा खन्ना 


2012 में आई फिल्म कहानी का सीक्वल आज रिलीज़ हो गया है और विद्या बालन कहानी 2 के साथ एक बार फिर से स्क्रीन पर हैं। इस बार वो अपने वही अवतार में वापस आई हैं, वो अवतार जो आपको पलकें भी झपकने नहीं देता और अपनी सासें रोककर बस आप विद्या बालन को ही देखना रहना चाहते हो। कहानी भी शानदार फिल्म थी और ठीक उसी की तरह कहानी 2 भी शानदार फिल्म है लेकिन पिछली बार विद्या बालन को कहानी ने संभाला था और इस बार कहानी 2 को विद्या बालन ने संभाला है।


 

कहानी

कहानी 2 फिल्म की कहानी शुरू होती है रात के एक सीन के साथ, बंगाल के चंदन नगर में। सुजॉय घोष ने बिना टाइम वेस्ट किए विद्या सिन्हा से मिलवा दिया है और वो रोज़ अपना दिन कैसे बिताती है अपनी लकवाग्रस्त बेटी मिनी के साथ, जैसे पूरे घर की सफाई करना और रविवार को लूडो खेलना।

 

विद्या मिनी को लेकर हमेशा परेशान रहती है और उसका न्यूयॉर्क में इलाज कराना चाहती है। एक दिन उसकी दुनिया पलट जाती है जब मिनी गायब हो जाती है। थोड़ी देर बाद एक कॉल आता है और विद्या बताए हुए पते पर पहुंचती है। लेकिन वो रास्ते में एक्सीडेंट का शिकार होती है और कोमा में चली जाती है। यहीं से शुरू होती है कहानी 2 फिल्म।

 

अर्जुन रामपाल की एंट्री एक इंस्पेक्टर के किरदार में होती है जो ये जानकार हैरान हो जाता है कि विद्या सिन्हा दुर्गा रानी सिंह है। एक क्रिमिनल जिसे किडनैप और मर्डर के लिए ढूंढा जा रहा है। विद्या के घर से इंदरजीत को एक डायरी मिलती है जिसमें काफी राज़ लिखे हैं और वो हर कड़ी जोड़ने की कोशिश करने लगता है।


 

अभिनय

विद्या बालन की एक्टिंग के बारे में तो सब जानते ही हैं और एक बार उन्होंने फिर से अपनी एक्टिंग से लोगों का दिल जीत लिया है और उन्होंने साबित कर दिया है कि वो विद्या बालन क्यों हैं। डर, परेशानी, गुस्सा सब कुछ एक ही किरदार में बखूबी उड़ेल दिया गया है।

 

अर्जुन रामपाल ने अपने किरदार से लोगों को बांधे रखा है और उन्होंने पुलिस के किरदार को जबरदस्त तरीके से निभाया है और उनका मुरझाया सा मज़ाकिया लहज़ा फिल्म में जान डाल देता है।

 

जुगल हंसराज बिल्कुल चौंकाने वाले अंदाज़ में दिखेंगे और उनके पूरे करियर में पहली बार उन्हें स्क्रीन पर देखकर आपको मज़ा आ जाएगा।

 

नाएशा खन्ना ने भी अपने किरदार में जान डाली है। खासतौर से विद्या के साथ उनकी केमिस्ट्री परदे पर बेहद खूबसूरत दिखी है।

 

डायरेक्शन

पहली कहानी की फिल्म, जहां एक प्रेगनेंट औरत के इर्द गिर्द बुनी गई थी वहीं सुजॉय की नई कहानी ऐसा टॉपिक है जिसे अनदेखा कर दिया जाता है। हालांकि उनकी कला यही है कि ऐसे विषय को इतने अच्छे ढंग से उठाया है कि कुछ भी दिखाने की ज़रूरत नहीं पड़ी। हालांकि फिल्म में नॉर्मल बॉलीवुड का डोज़ है लेकिन सुजॉय का निर्देशन इसे अलग बनाता है।

 

तकनीकी पक्ष

कहानी 2 का फर्स्ट हाफ शानदार है जो आपको सांस भी नहीं लेने देगा। स्क्रीनप्ले बेहद कसा हुआ है। लेकिन दूसरे हाफ में सब खुलने लगता है और कहानी छूटने लगती है। आप सरप्राइज़ का इंतज़ार करेंगे लेकिन जो आपने सोचा वही होगा। क्लाईमैेक्स काफी ठंडा है।नम्रता राव की एडिटिंग फिल्म को बचाती है। और अच्छा बनाती है।

 

फिल्म देखनी चाहिए या नहीं

फिल्म की कहानी अच्छी है और आपको यह फिल्म जरुर देखनी चाहिए क्यूंकि फिल्म की कहानी के साथ साथ विद्या बालन और अर्जुन रामपाल ने अच्छी एक्टिंग की है, अगर आपको सस्पेंस फिल्में देखना पसंद है तो आपको यह फिल्म बहुत पसंद आएगी। फिल्म देखने जाने से पहले आप इस लिंक पे क्लिक करके ट्रेलर, गाने और लिरिक्स देख सकते हैं-

 

फिल्म का ट्रेलर, गाने और लिरिक्स देखने के लिए यहाँ क्लिक करें–




संबंधित पोस्ट


शीर्ष पोस्ट और पन्ने


कैसे पहचाने 10 के नकली सिक्के को
बाहुबली-2 में भल्लाल देव की है जबरदस्त बॉडी
जल्द ही बंद होंगे दो हज़ार के नोट
सनी लियोनी का भाई की शादी में ऐसा था अंदाज
ये है इंडिया के सबसे खतरनाक एनकाउंटर स्पेशलिस्ट
दंगल में हुई चार बड़ी गलतियां
पढ़िए अखिलेश और डिंपल की लव स्टोरी के बारे में
TV पर बार-बार क्यों आती है सूर्यवंशम

हाल की पोस्ट


ये बड़े अविष्कार हुए गलती से
श्रीलंका में अब भी हैं रामायण से जुड़ी जगहे
कड़ाके की ठण्ड में भी गर्म रहता है इस हॉट स्प्रिंग्स का पानी
इन बुजुर्गों की जिंदादिली को सलाम
ये हैं दनिया की सबसे अमीर महिलाएं
8 साल में कैसा रहा व्हाइट हाउस में ओबामा परिवार का सफ़र, जानें
ये हैं इतिहास के सबसे अमीर लोग
जानते हैं महाभारत में कौन किसके अवतार थे