ख़बरी दोस्त

बेफिक्रे फिल्म रिव्यू

फिल्म: बेफिक्रे

डायरेक्टर: आदित्य चोपड़ा

स्टारकास्ट: रणवीर सिंह और वाणी कपूर

 

बेफिक्रे फिल्म आज सिनेमाघरों में दस्तक दे चुकी है। आदित्य चोपड़ा ने इससे पहले फैमिली ऑडियंस को ध्यान में रखकर फिल्में बनाई, लेकिन रणवीर-वाणी स्टारर 'बेफिक्रे' सिर्फ यंगस्टर्स पर फोकस करती है। रणवीर कपूर फिल्म में दिल्ली के करोलबाग के टिपिकल छोरे बने हैं जो पेरिस में हैं और ऐसे में रणवीर का मस्तमौला अंदाज सबको पसंद आ रहा है।

 

कहानी

फिल्म की कहानी है दिल्ली के रहना वाला धरम (रणवीर सिंह) एडवेंचर की तलाश में पेरिस पहुंच जाता है। वहां उसकी मुलाकात शायरा गिल (वाणी कपूर) से होती है। शायरा गिल बेहद बोल्ड लड़की है। उसे शादी के अलावा बाकी सब करना अच्छा लगता है। इसी शर्त पर शायरा धरम से रिश्ता बनाती है। फिर दोनों एक दूसरे के सामने अजीबो-गरीब शर्तें रखते हैं और दोनों एक दूसरे को प्यार और शादी के चक्कर में ना पड़ने का वादा करते हैं। लेकिन दोनों न चाहते हुए भी ये दोनों प्यार में पड़ जाते है। पर एक दिन दोनों का ब्रेकअप हो जाता है।शायरा-वाणी फिर मिलते हैं पर इस बार कहानी में ट्विस्ट आता है। शायरा की ज़िंदगी में कोई और लड़का दस्तक देता है और धरम को भी एक फ्रेच लड़की मिल जाती है। इसके बाद भी कहानी में एक और अहम मोड़ आता है। फिर इनकी दोस्ती और रिलेशनशिप में कितनी ट्विस्ट एंड टर्न्स आते हैं, यह जानने के लिए आपको फिल्म देखनी होगी। वैसे, आदित्य चोपड़ा की इस फिल्म की कहानी में कुछ नयापन नहीं है।

 

एक्टिंग

'गोलियों की रासलीला: रामलीला' और 'बाजीराव मस्तानी', जैसी फिल्मों में शानदार एक्टिंग करने वाले रणवीर सिंह ने एक बार फिर साबित किया कि वो क्यों परफेक्ट है। 'बेफिक्रे' में रणवीर की डेब्यू फिल्म 'बैंड बाजा बारात' की झलक देखने को मिलती है। उस फिल्म में वे अनुष्का से प्यार का इजहार करने से बचते दिखे थे। 'बेफिके' में भी कुछ ऐसा ही आपको देखने को मिलेगा। वैसे, रणवीर अपने रोल में परफेक्ट लगे हैं।

वाणी कपूर के बारे में ऐसा नहीं कहा जा सकता। वाणी कपूर से दर्शक शुरू से ही निराश हैं, क्यूंकि वो फिल्म के ट्रेलर में भी कुछ ज्यादा ख़ास नहीं लगी हैं। सर्जरी के बाद उनका लुक बिगड़ गया है, तो स्क्रीन पर साफ नजर आ रहा है।

 

डायरेक्शन

आदित्य चोपड़ा 8 सालों बाद निर्देशन कर रहे हैं और आदित्य चोपड़ा ने यह चौथी फिल्म डायरेक्ट की यह है। 'बेफिक्रे' से पहले उन्होंने दिलवाले दुल्हनिया ले जाएंगे (1995), मोहब्बतें (2000), रब ने बना दी जोड़ी (2008) डायरेक्ट की है। उनकी तीनों फिल्में फैमिली ऑडियंस को ध्यान में रखकर बनाई थी। लेकिन 'बेफिक्रे' पूरी तरह से नई जनरेशन पर फोकस करती है। फिल्म में 23 किसिंग सीन्स है, जिसे पेरेंट्स के साथ नहीं देखा जा सकता। बता दें, फिल्म का पूरी शूटिंग पेरिस में हुई है। वहां की शानदार लोकेशन्स को आदित्य चोपड़ा ने फ्रेम में खूबसूरती से दिखाया है।

 

 

म्यूजिक

आदित्य के निर्देशन के बाद फिल्म का म्यूजिक दूसरी अच्छी चीज़ है। बेफिक्रे में विशाल शेखर ने म्यूजिक दिया है। नशे दी चढ़ गई, उड़े दिल बेफिक्रे, ये दोनों गाने रिलीज से पहले ही हिट हो गए थे। मिकी मैकक्लेरी का बैकग्राउंड म्यूजिक काबिले तारीफ़ है।

 

फिल्म देखने जाएँ या नहीं

ये तो सबको पता था कि यह आदित्य चोपड़ा की बाकी फिल्मों से अलग है लेकिन दर्शकों को आदित्य चोपड़ा वाली बात नहीं लग रही। यंगस्टर्स इसे बेशक पसंद करेंगे, लेकिन फैमिली ऑडियंस को यह फिल्म रास नहीं आएगी। फिल्म देखने जाने से पहले आप इस लिंक पे क्लिक करके ट्रेलर, गाने और लिरिक्स देख सकते हैं-

 

फिल्म का ट्रेलर, गाने और लिरिक्स देखने के लिए यहाँ क्लिक करें–

 

 

 




संबंधित पोस्ट


शीर्ष पोस्ट और पन्ने


कैसे पहचाने 10 के नकली सिक्के को
बाहुबली-2 में भल्लाल देव की है जबरदस्त बॉडी
जल्द ही बंद होंगे दो हज़ार के नोट
जानें भोजपुरी एक्ट्रेसेस फिल्म के लिए कितनी फीस लेती हैं
पढ़िए अखिलेश और डिंपल की लव स्टोरी के बारे में
दंगल में हुई चार बड़ी गलतियां
ये है इंडिया के सबसे खतरनाक एनकाउंटर स्पेशलिस्ट
जानते हैं प्रधानमंत्री के बॉडीगार्ड्स के ब्रीफ़केस में क्या होता है

हाल की पोस्ट


ये स्टार्स करते हैं इन ब्रांड्स को प्रमोट
जानें 'द कपिल शर्मा शो' के मेंबर्स की फीस
किसी काम के नही शरीर के ये अंग
ये हैं दुनिया के सबसे विवादित फूड्स, पाबंदी के बाद भी खाते हैं लोग
इन फिल्मों को देखने के बाद किसी को आया अटैक तो किसी की हुई मौत
ये हैं देश के पानी के सबसे महेंगे ब्रांड्स
दुनिया के इन देशों में क्या है रेप की सजा, जानें
IRCTC ने जारी की खाने की नई लिस्ट